Hastmaithun Ki Aadat Ko Chodne Ke Khas Upay

Hastmaithun Ki Aadat Ko Chodne Ke Khas Upay

हस्तमैथुन की आदत को छोड़ने के खास उपाय-

हस्तमैथुन क्या है?

जब कोई व्यक्ति(स्त्री या पुरूष) कामवासना व उत्तेजना के अधीन होकर संभोग के लिए लालायित रहता है और उसके पास कोई अपना ऐसा साधन या पार्टनर नहीं होता, जिसके साथ वह अपनी काम-पिपसा को शांत कर सके, तो इस दशा में वह अप्राकृतिक रूप से स्वयं ही अपने हाथों से अपने गुप्तांग व यौनांग को घर्षण करके स्खलित हो जाता है, जिसे हस्तमैथुन करना कहते हैं।

हस्तमैथुन छोड़ने के उपाय-

hastmaithun.co.in

1. बुरी संगत का त्याग करें:

हमारी पूरी जिंदगी को संवारने में और बिगाड़ने में संगति की एक बहुत ही बड़ी भूमिका होती है। अगर हमारी संगति अच्छे, गुणवान और सुचिवार धारी लोगों से हो, तो आप कितने भी बुरे इंसान क्यों न हों, आप अच्छी संगत में रहकर धीरे-धीरे उन जैसे ही अच्छे बन जायेंगे। इसके साथ ही दूसरों के बारे में अच्छा सोचेंगे, उनका भला सोचेंगे और जो व्यक्ति दूसरों का अच्छा और भला सोच सकता है, तो आप स्वयं ही अंदाजा लगा लीजिए कि वह अपने लिए कितना अच्छा सोच सकता है और अपने जीवन को कितना मधुर बना सकता है। इसलिए बुरी संगति छोड़ें और अच्छी संगति को अपनायें। कहने का अभिप्राय यही है कि बुरी आदत पालने वाले ऐसे मित्रो से दूर रहे हैं, जो आपको गलत सेक्सुअल एक्टिविटी में धकेल दें।

2. पोर्न वीडियो ना देखें:

दोस्तों पोर्न वीडियो यानी अश्लील व नग्नता से भरी वीडियो देखने का उद्देश्य ही यही होता है कि कामोत्तेजना जागने पर हस्तमैथुन की जा सके और आत्मसंतुष्टी प्राप्त की जा सके(उस स्थिति में जब आपके पास अपनी सेक्स की प्यास को बुझाने के लिए कोई स्त्री पार्टनर न हो और स्त्री के पास कोई पुरूष पार्टनर न हो)। पोर्न वीडियो देखने से दिल-दिमाग में कवेल वही कामुक दृश्य घूमते रहते हैं और व्यक्ति हस्तमैथुन करने के लिए मजबूर हो जाता है।

यह आर्टिकल आप hastmaithun.co.in पर पढ़ रहे हैं..

इसे भी पढ़ें- शीघ्रपतन

3. सेक्स भरी कहनियाँ बिल्कुल ना पढ़ें:

आज के फैशनेबल और आधुनिक दुनियां में युवा वर्ग बहुत ज्यादा मोबाइल फोन से जुड़ा हुआ है। मोबाइल में मीडिया व इंटरनेट में इतना सेक्स मैटिरियल भरा हुआ है, जिसमें कई प्रकार के अश्लील वीडियोज़ और सेक्सी कहानियांे वाली ऐप्लीकेशन्स की भरमार है कि स्कूल पढ़ने वाला विद्यार्थी भी इसके प्रभाव में आकर हस्तमैथुन जैसी घृणित आदत के मकड़जाल में फंसता जा रहा है। इसलिए कामुकता से भरी कहानियां पढ़ना और दूसरों को भी पढ़ाना बंद करें, क्योंकि आपका और दूसरों का, दोनों का जीवन अनमोल है, इसे इन गंदे कामों में व्यर्थ न करें।

4. डेली रुटीन सही रखें:

डेली रुटीन अगर व्यक्ति का सही हो, तो उसका हर कार्य सही से और पूरा होता है। वह हर क्षेत्र में अपनी सही दैनिकचर्या के कारण जीवन में सफल होता चला जाता है। वहीं यदि किसी व्यक्ति की दिनचर्या सही नहीं है तो उसका जीवन में और हर उन्नत्ति के कार्य में असफल होना तय है।

सही डेली रुटीन का होनाहस्तक्रिया के मामले में भी बहुत ही महत्वपूर्ण है, इसलिए आप अपने पूरे दिन की कार्यप्रणाली अच्छे तय कर लें और उसी पूर्व नियोजित कार्यप्रणाली के अनुसार अपने भी काम पूरे करें। ध्यान रहे इस कार्यप्रणाली में हस्तक्रिया के लिए समय भूलकर भी न रखें।

Hastmaithun Ki Aadat Ko Chodne Ke Khas Upay

इसे भी पढ़ें- सफेद पानी

5. स्त्रियों और लड़कियों के बारे में ना सोचें:

कई ऐसे कामुक प्रवृत्ति के पुरूष भी होते हैं, जो वक्त-बेवक्त जब देखो, बस किसी न किसी लड़की या सुंदर स्त्री के अंग-प्रत्यंग को जेहन में रखकर कामुक ख्यालों में ही खोये रहते हैं। ऐसा करने वाले लोग अपने विचारों को तो गंदा और मैला करते ही हैं, साथ ही अपना कीमती समय भी नष्ट कर देते हैं। हर वक्त सुंदर स्त्रियों या लड़कियों के बारे में ही चिंतन करते रहने से व्यक्ति हस्तक्रिया करने के लिए उत्सुक हो जाता और फिर धीरे-धीरे उसकी यही उत्सुकता, बेचैनी में बदल जाती है, जिसे शांत करने के लिए वह हस्तक्रिया कर लेता है। सात्विक विचार रखें और वक्त लड़कियों के बारे में ही ना सोचें।

6. मजबूत इरादा करें:
हस्तक्रिया की लत से छुटकारा पाने के लिए सबसे अहम बात जो है, वो यह है कि आपको खुद से ये वायदा करना होगा, दृढ़ संकल्प लेना होगा, कि आप कोई भी ऐसा कार्य नहीं करेंगे या ऐसे विचारों को अपने पास तक नहीं फटकने देंगे कि जो आपको हस्तक्रिया करने के लिए विवश कर दे। जब तक आप खुद से पूरी तरह दृढ़ संकल्पित होंगे, हस्तक्रिया की लत से आप मुक्त नहीं हो सकते।

सेक्स से संबंधित अन्य जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें..http://chetanclinic.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *