Aaiye Jante Hain Kya Hota Hai Hastmaithun?

Aaiye Jante Hain Kya Hota Hai Hastmaithun?

आइये जानते हैं क्या होता है हस्तमैथुन?

हस्तमैथुन को जानें और समझें-

हस्तमैथुन को अंग्रेजी भाषा में masturbation कहा जाता है। हस्तचलन मनोविज्ञान से संबंधित एक सामान्य प्रक्रिया है। इसे पुरूष हो स्त्री कभी-न-कभी अपनी यौन तृप्ति के लिए करते ही हैं।

अब तो साईन्स भी ये साबित कर चुका है कि हस्तचलन करना कोई रोग या गलत बात नहीं है। पुरुषों के ही समान स्त्रियां भी अपने यौनांगों को स्वयं कामुकता प्रदान करने के उपाय ढूंढ लेती हैं, जो उन्हें बेहद संवेदनशील अनुभव और प्रबल उत्तेजना प्रदान करते हैं।

स्त्रियां यदि अपने यौनांगों को स्वयं उत्तेजना प्रदान नहीं करती हैं, तो इस बात के चांसेज बने रहते हैं कि विवाह के पश्चात् संभोग के दौरान उन्हें जितनी उत्तेजना की आवश्यकता हो, वह उतनी उत्तेजना न पा सकें। औसतन गौर किया जाये, तो पुरुष 12-13 वर्ष के आखिरी पड़ाव में हस्तचलन करना शुरू कर देते हैं।

Aaiye Jante Hain Kya Hota Hai Hastmaithun?

अब तो बाजार में कई प्रकार के नकली महिला जननांग भी available हैं जो soft fiber से निर्मित होते हैं और महिला जननांग जैसा ही अनुभव देते हैं और पुरूष आखिर में चरम तक पहुंच कर स्खलित हो जाते हैं।

वैसे तो हस्तचलन करने में कोई बुराई नहीं, यह उम्र के हिसाब से स्वाभाविक है। मगर वो कहते हैं न कि अति किसी भी चीज की अच्छी नहीं होती, इसलिए अगर Hand Practice को जरूरत से ज्यादा या लगातार बार-बार किया जाये, तो यह शारीरिक व मानसिक दोनों रूप में नुकसानदायक हो सकता है।

Hand Practice ज्यादातर उस स्थिति में किया जाता है, जब पुरुष या स्त्री किसी दोनों में से कोई भी संभोग के लिए व्याकुल हो रहा हो और उस स्थिति में हो कि संभोग के बिना न रह पा रहा हो, तब वह संतुष्टि पाने के लिए Hand Practice करता है, जिससे कि वह चरमसुख हासिल कर सके। मगर हस्तचलन की लत पाल बैठना, व्यक्ति की सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है।

क्यों पड़ जाती है हस्तमैथुन की आदत और इसके क्या-क्या नुकसान होते हैं?

hastmaithun.co.in

Hand Practice की आदत लग जाने के पीछे कई वजह हो सकती हैं, जिनमें कुछ मुख्य वजह हैं जैसे- अश्लील साहित्य पढ़ना, अश्लील फिल्म देखना, स्त्री-पुरुष और यहां तक कि पशुओं की मैथुन समागम देखना, आँतों में कृमि होना, लिंग में खुजली होना, खुजलाने की प्रक्रिया से लिंग में स्पर्श व दबाव से अनायास ही कसाव आने से Hand Practice करने का मन होना प्रमुख होता है।

इसके अलावा, पुरुष से सामान्य सेक्स में disgust, leucorrhoea, mental और neurological रोग भी पैदा हो सकते हैं, जो married life को दुखदायी बना देती है।

यह आर्टिकल आप hastmaithun.co.in पर पढ़ रहे हैं..

– रोजाना बार-बार हस्तचलन करने से आंखों की रोशनी कमजोरी होती है।

– चेहरे की चमक खो जाती है

– आँखें गड्ढे में चली जाती है

– नपुंसकता

– स्वप्नदोष

– शिश्न का छोटा, पतला, शिथिल पड़ना

– मानसिक तनाव, suicide करने की तीव्र इच्छा, शीघ्रपतन, हमेशा सोने का करना, लड़कियों और महिलाओं से बातें करने की हिम्मत न जुटा पाना, हाथों और पैरों के तनाव में अत्यधिक पसीना आना जैसी परेशानियों से भी दो-चार होने पड़ सकता है।

हस्तमैथुन से संबंधित कुछ सवाल और उनके जवाब :

प्र0: क्या हस्तमैथुन हानिकारक है?

उ0: आपके इस प्रश्न के उत्तर में हम आपको बता दें कि Hand Practice एक प्रकार की स्वाभाविक क्रिया है, जो उम्र के एक मोड़ पर हर युवा करता है। मगर इसको हद से ज्यादा करना या इसकी लत लगा लेना स्वास्थय के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। सप्ताह में एक या दो बार Hand Practice करना सही रहता है।

प्र0: तो क्या इतना आवश्यक है हस्तमैथुन करना?

उ0: एक प्रकार से देखा जाये तो हां, यह स्त्री और पुरूष दोनों के लिए आवश्यक भी है। दरअसल Hand Practice करने से हमें अपनी सेक्स क्षमता का आभास होता है। अब जो एनर्जी शरीर में बनती है, उसका सही जगह निकलना भी जरुरी है, नहीं तो शरीर रोग का घर बनने लगता है।

प्र0: हस्तमैथुन करने से कितनी मात्रा में एनर्जी बेकार होती है?

उ0: इस प्रश्न के जवाब में मैं एक बात स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि Hand Practice को लेकर एक सबसे बड़ा भम्र यह फैलाया गया है कि Hand Practice में शरीर की बहुत सारी एनर्जी निकल जाती है, जबकि ऐसा बिल्कुल नहीं है। रिसर्च के अनुसार एक बार हस्तक्रिया करने से केवल उतनी ही एनर्जी निकलती है, जितनी एक गिलास नीबंू पानी में एनर्जी होती है।

प्र0: हस्तमैथुन के लिए सही समय और स्थान क्या होना चाहिए?

उ0: हस्तक्रिया के लिए सही समय और स्थान क्या होना चाहिए, यह प्रश्न बहुत अहम है। तो यहां मैं आपको बता दूं कि हस्तक्रिया ऐसी जगह करें, जहाँ आपको कोई परेशान ना कर सके या आप सुरक्षित हों। अक्सर यह क्रिया अचानक बीच में ही रूक जाने से विशेषांग में दर्द हो जाता है।

प्र0: क्या हस्तमैथुन करने से नपुंसकता आ जाती है?

उ0: जी बिल्कुल नहीं, यह केवल एक मिथ्या बात है, भ्रम है कि हस्तक्रिया करने से किसी भी प्रकार की शारीरिक बीमारी जैसे कि लड़कियों में बाँझपन और लड़कों में नपुंसकता आती है। यह केवल और केवल फैलाई गयी अफवाह मात्र है।

प्र0: स्नान के समय हस्तमैथुन करना सही या गलत?

उ0: याद रखें कि लड़का हो या लड़की आपको स्नान करते समय हस्तक्रिया बिल्कुल नहीं करना चाहिए। जब आप हस्तक्रिया
करते हैं, तो उस समय आपके शरीर का तापमान अधिक हो जाता है और इसके एकदम बाद बाॅडी में पानी डालना सेेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है।

Aaiye Jante Hain Kya Hota Hai Hastmaithun?

प्र0: अपने शरीर को समझना आवश्यक है?

उ0: हां बिल्कुल आवश्यक है। वैसे हस्तक्रिया से व्यक्ति की कई इच्छाएं तो शांत हो जाती है, लेकिन इसका सबसे बड़ा फायदा यह हो सकता है कि हस्तक्रिया की क्रिया के समय आप अपने शरीर को अच्छी तरह से समझ सकते हैं, इसलिए इस क्रिया को आराम से और शान्ति के साथ करना चाहिए।

ये थे हस्तक्रिया से संबंधित कुछ सवालों के जवाब। हमारे द्वारा दिये गये जवाबों के दौरान आप यह अच्छी तरह समझ गये होंगे कि हस्तक्रिया एक स्वाभाविक क्रिया है, जिसको करना कोई पाप नहीं है। बस इस बात का विशेष ध्यान रखें कि इसकी आदत या लत न पालें, अन्यथा आपको शारीरिक व मानसिक नुकसान पहुंच सकता है।

सेक्स से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.. http://chetanclinic.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *